राजस्थान:उपचुनाव में भाजपा को तगड़ा झटका,वसुंधरा के गृह क्षेत्र में कांग्रेस की शानदार जीत

0
374

विधानसभा चुनाव में हार के भाजपा की राजस्थान में पकड़ कमज़ोर होती जा रही है वही सीएम वसुंधरा के सितारे भी गर्दिश में दिख रहे है.भाजपा को अब पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के भी गृह जनपद में शर्मनाक हार मिली है.इस जीत से कांग्रेस के खेमे में जश्न है वही भाजपा इसे सत्ता और प्रशासन के बल पर जीती हुई जीत बता रहां है लेकन लोकसभा चुनाव से पहले मिली इस जीत से कांग्रेस को मनोवैज्ञानिक बढ़त मिल गयी है.

पढ़े पूरी खबर-
कांग्रेस का राजस्थान में विजय रथ रुकने का नाम नही ले रहा है.पहले विधानसभा में जीत फिर रामगढ़ के उपचुनाव में जीत के बाद कांग्रेस को एक और जीत मिल गयी है.पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के गृह क्षेत्र में कांग्रेस भाजपा को पटखनी देने में सफल रही है.अकलेरा पंचायत समिति में मंगलवार को हुए प्रधान पद के उपचुनाव में भाजपा के बहुमत वाले बोर्ड में कांग्रेस के कैलाश मीणा प्रधान चुने गए.

कांग्रेस

मीणा को 20 और भाजपा प्रत्याशी को मात्र 3 मत मिले.भाजपा की ओर से उपप्रधान रेशम बाई प्रधान के लिए दावेदार थीं.समिति में बीजेपी से 18, कांग्रेस से 4 और 1 निर्दलीय सदस्य हैं.भाजपा के बहुमत होने के बावजूद भी भाजपा अपने प्रत्याशी को प्रधान नहीं बना सकी.

उधर,बहरोड़ नगर पालिका में पालिका उपाध्यक्ष पद के लिए हुए चुनाव में विक्रम यादव उपाध्यक्ष चुने गए.यहां पालिका उपाध्यक्ष राकेश की गत वर्ष 25 जून को हत्या हो गई थी.चुनाव में विक्रम यादव को 16 मत, मुंशीलाल को 5 व निधिी यादव को 3 मत मिले.इसी तरह बाड़मेर के बालोतरा पंचायत समिति के प्रधान के रिक्त पद पर कांग्रेस प्रत्याशी दरियादेवी निर्विरोध निर्वाचित हुई.

वसुंधरा राजे

यहां पहले ओमाराम भील निर्वाचित हुए थे.उनको फर्जी अंकतालिका के आधार पर अयोग्य घोषित करने के बाद चैनाराम प्रधान निर्वाचित हुए.चार बार से यहां ओमाराम हटते और काबिज होते रहे.पंचायत चुनाव में जीत से कांग्रेस में जोश है वही भाजपा ने चुनाव नतीजों को सत्ता और धन के बल पर प्रभावित बताया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here