नफ़रत वाले बयान पर अब गिरिराज़ को पता चली अपनी औकात,तेजस्वी ने ऐसे किया…

0
834
गिरिराज एंड तेजस्वी

लोकसभा चुनाव करीब होते ही सभी पार्टियों ने अपनी रणनीति बनानी शुरू कर दी है.बिहार में एनडीए में जहाँ जनता दल यूनाइटेड के आने के बाद समीकरण मजबूत हुआ है वही विपक्ष की अगुवा पार्टी राजद के नेता ने भी अपने समीकरण मजबूत किये है.इस बार बिहार में रोचक मुकाबला होने की उम्मीद है.तेजस्वी यादव ने लोकसभा चुनाव से पहले मंडल कार्ड खेल दिया है.

तेजस्वी यादव

ऐसा माना जा रहा है बिहार में केंद्र सरकार द्वारा सवर्ण आरक्षण लागू करने के बाद बिहार में राजद इसके उलट धुर्वीकरण के सहारे पिछडो के वोट गोलबंद करने में लगा हुआ है.तेजस्वी यादव ने इसके अलावा बेरोजगारी को भी मुद्दा बनाया है.इस बीच उन्होंने केन्द्रीय मंत्री और हमेशा विवादित ब्यान देने वाले गिरिराज सिंह पर भी निशाना साधा है.

जाने मामला-
बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव बेरोजगारी हटाओ,आरक्षण बढ़ाओ यात्रा पर निकले हुए हैं.इस दौरान उन्होंने सुपौल में जनसभा को संबोधित किया जिसमें उन्होंने केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह पर हमला बोलते हुए कहा कि यह देश उनके बाप का नहीं है.दरअसल, तेजस्वी यादव बीजेपी नेता गिरिराज सिंह के उस बयान का जवाब दे रहे थे जिसमें वे अक्सर देश के गद्दारों को संबोधित करते हुए पाकिस्तान जाने की बात कहते रहे हैं.

तेजस्वी यादव

उन्होंने कहा कि ये देश गिरिराज सिंह के बाप का नही है,जो वह किसी को पाकिस्तान भेजने का आदेश देते हैं.राजद नेता तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर चुटकी लेते कहा कि डीएनए को गाली देना कितनी बड़ी गाली है,अगर कोई मुझे ये गाली देता तो मैं कभी उनके पैर छूने नहीं जाता.

वहीं तेजस्वी ने केंद्र व राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बिहार में रोजगार नाम की कोई चीज नहीं रह गई है.यहां के युवा रोजगार पाने के लिए दूसरे राज्यों में जा रहे हैं.तेजसी यादव ने बिहार के खराब लॉ एंड आर्डर को भी मुद्दा बनाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here