तकनीकी शिक्षा में रोजगार की अपार संभावनाएं:नवीन वर्मा

1
199
नवीन वर्मा

अयोध्या-चिकित्सा,शिक्षा,अर्थव्यवस्था,खेल,नौकरियां पर्यटन आदि विज्ञान और प्रौद्योगिकी के कारण उन्नति कर रहे हैं।आधुनिक तकनीकी का इस्तेमाल अब शिक्षा के क्षेत्र में होने लगा है।स्मार्ट क्लासेज से बच्चों को पढ़ाया जाता है।तकनीकी शिक्षा मानव संसाधन विकास का एक सबसे जटिल अंग हैयह लोगों के जीवन स्तर को सुधारने के लिए पर्याप्त क्षमता भी रखती है.इस समय जो भी विकास हम देख रहे है या लाभ उठा रहे है वो सब तकनीक की ही देन है.तकनीक का किसी भी देश की उन्नति में बड़ा योगदान है.

यह बातें अवर अभियंता रेलवे जोन इलाहाबाद के वर्मा ने गणतंत्र दिवस पर मॉडर्न ग्रुप ऑफ़ इंस्टिट्यूशन जाना बाजार द्वारा आयोजित समारोह में बतौर मुख्य अतिथि ने कही।उन्होंने विद्यार्थियों को तकनीकी शिक्षा और रोजगार के अपार संभावनाओं के विषय गत विभिन्न क्षेत्रों में विस्तृत चर्चा की।कार्यक्रम में उपस्थित टेक्नोक्रेट्स के द्वारा पूछे गये सवालों के भी जवाब दिए।उन्होंने छात्रों को तकनीकी शिक्षा के लिए प्रेरित किया.नवीन ने कहाकि रोजगार का सबसे बड़ा श्रोत तकनीकी ज्ञान ही है.नवीन वर्मा के वाख्यान को सुनकर छात्र प्रभावित हुए \.

इससे पहले समारोह का प्रारंभ सरस्वती वंदना तथा दीप प्रज्वलन से हुआ।विद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत राष्ट्रीय गीत,डांस तथा एकांकी सभी श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।नवीन वर्मा द्वारा विद्यालय के मेधावी टॉपर्स रचना यादव,रोहित निषाद तथा नेहा यादव को साइकिल पुरस्कार के स्वरूप में प्रदान कर सम्मानित किया एवं बधाई द।इस मौके पर कालेज के प्रबंधक रमेश चंद श्रीवास्तव ने पाठ्यक्रम के बिषयगत इलेक्ट्रॉनिक,मैकेनिकल,इंजीनियरिंग के विषयगत औद्योगिक उपक्रमों में रोजगार की संभावनाओ पर प्रकाश डाला।अंत में विद्यालय के प्रधानाचार्य गुदुन प्रसाद यादव ने सभी गणमान्य अतिथियों के प्रति आभार प्रकट किया।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here