हैरतअंगेज़-तांत्रिक ने अस्पताल में किया आत्मा को वापस लाने का हवन,आखिर में हुआ हैरान करने वाला..

0
198

आज भले ही हम आधुनिकता से जुड़ चुके हैं और मॉडर्न हो रहे हो।लेकिन भारत में ऐसे लोगों की कोई कमी नहीं है जो आज भी अंधविश्वासी हैं और मेडिकल साइंसेज के दौर में जा’दू टो’ने और तां’त्रिक विद्या में विश्वास करते हैं।हाल ही में राजस्थान से एक ऐसी ही अंधविश्वास से जुड़ी घटना का मामला सामने आया है।

आपको बता दें कि राजस्थान के अजमेर में रहने वाले परिवार के शख्स का एक्सीडेंट हो गया था जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था अस्पताल में इलाज के दौरान इस शख्स की मौ’त हो गई। मृ’तक के परिवार वाले अस्पताल से उसकी बॉडी ले गए और उन्होंने उसका अं’तिम संस्कार भी कर दिया।

लेकिन कुछ दिनों बाद वह लोग अस्पताल वापस लौटे और उसी वार्ड में चले गए।जहां उस शख्स का इलाज किया गया था। इस दौरान परिवार वाले अपने साथ एक तां’त्रिक को भी लेकर आए थे और उस कमरे में जाकर उन्होंने तां’त्रिक के साथ मिलकर हवन शुरू कर दिया।परिवार वालों का कहना था कि उन्होंने मृ’तक के शरीर को तो जला दिया है।

लेकिन उसकी आत्मा इसी कमरे में रह गई है जिसे वह लेने आए हैं।आपको बता दें कि तां’त्रिक के साथ मिलकर इन लोगों ने अस्पताल के पुरष वार्ड में हवन किया।परिवार की इन हरकतों को देखकर अस्पताल के कर्मचारी इतने डर गए थे कि उन्होंने परिवार वालों को ऐसा करने से नहीं रोका।

इस दौरान वार्ड में और भी कई मरीज मौजूद थे लेकिन उन्होंने भी एक शब्द तक नहीं कहा दरअसल सब जादू टोने की ऐसी हरकत को देखकर डरे सहमे पड़े थे।इस अस्पताल में काम करने वाले एक वार्ड बॉय ने बताया है कि मृ’तक परिवार वालों का कहना था कि हम मृ’तक की बॉ’डी ले गए थे और उसका अं’तिम किर्याकर्म भी कर दिया।

मगर उसकी आ’त्मा यहीं पर रह गई थी और अब हम उसकी आ’त्मा लेने आए हैं।जिसे हम घर के एक कोने में रखेंगे।बता दें कि बीते साल अंधविश्वास से जुड़ी एक ऐसा घटना दिल्ली में भी घटी थी।जहां पर अंधविश्वास के चलते एक परिवार वालों ने ये सोचकर फांसी लगा ली थी कि वे दुबारा ज़िंदा हो जाएंगे। ये मामला आज भी रहस्य्मयी बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here