शिवपाल ने दिए SP-BSP के साथ आने के संकेत,बोले-अगर हमको….

0
2106

यूपी की सिआसत में कभी सपा के नेता रहे शिवपाल यादव इस समय अपने जीवन की सबसे मुश्किल मोड़ में है वैसे तो उन्होंने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बना ली है और इस पार्टी को खड़ा करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है इस नए घटनाक्रम पर सभी सियासी पंडितो की नजर है इस बीच शिवपाल यादव ने अखिलेश के साथ जाने के संकेत दिए है लेकिन उन्होंने इस पर भी एक शर्त लगा दी है.

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहाकि उनका भाजपा से कोई लेना देना नही है वो सपा और बसपा के साथ गठबंधन के लिए तैयार है,लेकिन उन्होंने गठबंधन के बदले सपा-बसपा गठबंधन से चालीस लोकसभा सीट चाहते है.बता दे कुछ दिन पहले अखिलेश यादव ने शिवपाल यादव को भाजपा की बी टीम करार दिया है.

अपने भतीजे के दावे पर पलटवार करते हुए शिवपाल ने कहाकि कहा कि यह लोग अभी तक गठबन्धन क्यों नहीं कर पाए.क्या सीबीआई का डर है? शिवपाल ने आज राजधानी लखनऊ में अपने कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये बातें कहीं.शिवपाल यादव ने कहा कि लखनऊ में 9 दिसंबर को जन आक्रोश रैली होगी.देश और प्रदेश में हमारे मुद्दों को लेकर हम जनता के बीच में जाएंगे,बहुजन मुक्ति पार्टी और प्रगति समाजवादी पार्टी लोहिया की रमाबाई अंबेडकर मैदान में संविधान बचाओ.ईवीएम हटाओ.देश बचाओ महारैली का सफल आयोजन होगा.कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है.

शिवपाल ने कहाकि महिलाओं की आबरू सुरक्षित नहीं है बेरोजगारों युवाओं ने जब भी अपना हक़ सरकार से हाथ मांगा है उनको सिर्फ लाठियां मिली हैं.पारदर्शी चुनाव के लिए पेपर से चुनाव होना चाहिए.उन्होंने कहाकि प्रदेश की जनता अपने आप को ठगा महसूस कर रही है.नोटबंदी व जीएसटी से देश की जनता पूरी तरह से त्रस्त है.देश की जनता का सभी पार्टियों से मोह भंग हो चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here