राजनाथ के लिए मुश्किल हुआ लखनऊ में जीतना,सपा इस दिग्गज को उतारने की तयारी में…

0
562
fi

लखनऊ संसदीय सीट भाजपा के लिए सुरक्षित मानी जाती है भाजपा लगातार इस सीट को जीत रही है फिलहाल यहाँ से गृह मंत्री राजनाथ सिंह सांसद है.महागठबंधन इस सीट पर राजनाथ को घेरने की कोशिशे कर रहा है.सीट बटवारे में ये सीट सपा के हिस्से में आई है.सूत्रों का कहना है कि समाजवादी पार्टी इस सीट से कोई दिग्गज को उतारना चाहती है जिससे राजनाथ के रथ को रोका जाये.

केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार के खिलाफ बगावती सुर छेड़ने वाले बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा के बीजेपी छोड़ने की चर्चा जोर पकड़े हुए हैं।हाल ही में उन्होंने उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से लखनऊ में मुलाकात की थी।इन दोनों दिग्गज नेताओं ने काफी लंबे वक्त तक कई मुद्दों पर चर्चा की।

AKHILESH

बताया जा रहा है कि बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा के लिए लोकसभा सीट के बारे में अभी फैसला लिया जाना है।आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले ही शत्रुघ्न सिन्हा के समाजवादी पार्टी या फिर आरजेडी में शामिल होने की कयासबाजी शुरू हो गई थी लेकिन हाल ही में अखिलेश यादव से मुलाकात के बाद राजनीतिक सूत्रों का मानना है कि शत्रुघन सिंहा लखनऊ संसदीय क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं।

सिन्हा की दावेदारी के बाद माना जा रहा है गृह मंत्री राजनाथ सिंह के लिए लखनऊ में जीत हासिल करने काफी मशकक्त का सामना करना पड़ सकता है.वहीँ शत्रुघ्न सिन्हा ने भी इस मुद्दे पर मीडिया से कोई बात नहीं की।इस मुलाकात के बाद कहा जा रहा था कि शायद शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा सपा बसपा गठबंधन में समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार हो सकती हैं।

आपको बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा ने मीडिया से इस मामले में बातचीत करते हुए कहा है कि सिचुएशन कोई भी हो लोकेशन वही रहेगी।राजनीतिक सूत्रों की मानें तो शत्रुघ्न सिन्हा के तेवर देखते हुए भारतीय जनता पार्टी शायद इस बार सिन्हा को अपना उम्मीदवार न बनाए.गौरतलब है कि शत्रुघ्न सिन्हा बीजेपी में उस नेता के तौर पर जाने जाते हैं।जिन्होंने हमेशा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

शत्रुघ्न सिन्हा ने मोदी सरकार द्वारा किए गए जनविरोधी फैसलों का हमेशा विरोध किया है।जिसका खामियाजा उन्हें इस बार के लोकसभा चुनाव में भुगतना पड़ सकता है।लखनऊ में अखिलेश यादव से की गई मुलाक़ात के बाद शत्रुघ्न जिस तरह समाजवादी पार्टी और अखिलेश यादव की तारीफ कर रहे हैं,उसके भी कई मतलब निकाले जा रहे हैं।शत्रुघ्न सिन्हा ने अखिलेश यादव को संस्कारी बताया था।

शत्रुघ्न का मानना है कि अखिलेश यादव की अगुवाई में लोकसभा चुनाव जरूर जीतेगी।अगर सिन्हा यूपी से किस्मत आजमाते हैं तो वह सपा-बसपा-लोकदल गठबंधन में सपा के हिस्से की 37 सीटों में से एक के प्रत्याशी होंगे। जबकि बसपा 38 और रालोद तीन सीटों मथुरा, मुजफ्फरनगर और बागपत में अपने प्रत्याशी उतारने वाली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here