नाख़ून काटते समय इन बातो का रखे ख्याल,हजरत अली ने जो फ़रमाया उसे हर मुस्लिम को..

0
1834

इस्लाम में सफाई का खास ध्यान दिया गया है,जगह जगह इंसान को साफ रहने के लिए कहा गया है,सफाई से एक तरफ जहां इंसान फ्रेश रहता है, वहीं वह कई तरह की बीमारी से भी महफूज रहता है।कुरान में अल्लाह ताला ने इरशाद फरमाया है कि اِنَّ اللّٰہَ یُحِبُّ التَّوَّابِیۡنَ وَ یُحِبُّ الۡمُتَطَہِّرِیۡنَ इसका मतलब यह है कि अल्लाह ताला तौबा करने वाले और और पाक साफ रहने वाले को पसंद फरमाता है,वहीं हदीस और फिकह की किताबों में भी सफाई के लिए कई बाब मौजूद हैं जिस में छोटी छोटी बातों का भी ज़िक्र किया गया है।

इंसान के बदन में सफाई के लिहाज से नाखून की सफाई बहुत अहमियत रखती है,क्योंकि अगर नाखून साफ नहीं रहता है तो खाना खाने में इंसान के अंदर नाखून के रास्ते से गंदगी जाती है जिस से इंसान को बीमारी होने का खतरा रहता है।आज हम यहाँ पर आप को नाखून के बारे में बताएँगे कि इस्लामी तरीके से नाखून कब काटना चाहिए और कैसे काटना चाहिए,हम आप को नाखून काटने का मामला मौला अली रज़ी अल्लाहु ताला अनहु के एक वाकये के जरिये से बताते हैं।

मौलाए काइनात हज़रत अली रज़ी अल्लाहु ताला अनहु एक मर्तबा अपने घर जा रहे थे,और यह रात का वक़्त था,रास्ते में आप देखते हैं कि एक आदमी अपने नाखून काट रहा है,हज़रत अली रज़ी अल्लाहु ताला अनहु यह देख कर रुक जाते हैं,और उस इंसान के पास तशरीफ ले जाते हैं,उस से कहते हैं कि ए शक्स अल्लाह के रसूल ने रात में नाखून काटने से मना फरमाया है,वह शख्स मौला अली रज़ी अल्लाहु ताला अनहु से सवाल करता है कि ऐसा क्यों है कि रात में नाखून काटने से मना किया गया है।

इसके जवाब में मौला अली रज़ी अल्लाहु ताला अनहु फरमाते हैं कि हज़रत आदम अलैहिस्सलाम जब जन्नत में थे तो उन्हें और उनकी बीवी हज़रत हव्वा को लोहे के धातू का लिबास पहनाया गया था लेकिन जब हज़रत आदम अलैहिस्सलाम को जन्नत से ज़मीन पर उतारा गया तो यह लिबास भी उनके जिस्म से उतार लिया गया था।

लेकिन उनके हाथ और पैर पर कुछ निशान रह गए थे,इसलिए यह नूर है,और इसे रात में नहीं काटना चाहिए,अल्लाह ताला को यह पसंद नहीं है कि रात में इस नूरानी हिस्से को काटा जाये।वहीं यह भी कहा गया है कि नाखून काट कर इधर उधर बिखेरना नहीं चाहिए.इस से घर की बरकत चली जाती है,बल्कि जब नाखून काटा जाये तो एक जगह उस डाल दिया जाये,वहीं नाखून को कभी बढ्ने न दिया जाये,इस से बीमारी आती है,इसकी सफाई बहुत ज़रूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here