पीएम मोदी पर फिल्म बनाने वाले विवेक ओबेराय को लगा बड़ा झटका,बर्बाद हुए…

0
526

कंपनी जैसी फिल्म में दमदार अभिनय करने के बाद फिल्म अभिनेता विवेक ओबेराय बॉलीवुड में कोई प्रभाव नही छोड़ पाए,हालात ये रहे कि उनको फिल्मो में काम मिलना बंद हो गया.विवेक ओबेराय ने चुनावों में पीएम मोदी की लोकप्रियता के सहारे एक फिल्म बनाई जिससे वो दुबारा अपने आप को स्थापित कर पाए लेकिन आदर्श आचार संहिता के वज़ह से उनकी फिल्म पर चुनाव आयोग ने बैन लगा दिया अब चुनाव खत्म होने के बाद फिल्म दुबारा रिलीज़ हुई है.

तमाम रुकावटों के बाद पीएम नरेन्द्र मोदी पर बनी बायॉपिक फिल्म आखिरकार इस वीकेंड रिलीज़ हुई.हालांकि,देश में मोदी की जीत की लहर का फायदा इस फिल्म को मिलता नहीं दिख रहा.ओपनिंग डे पर फिल्म की कमाई करीब 2.50 करोड़ तक सिमट कर रह गई.boxofficeindia.com की रिपोर्ट की मानें तो इस फिल्म ने पहले दिन इंडियन बॉक्स ऑफिस पर 2.25-2.50 करोड़ की कमाई की है.

हालांकि, रिपोर्ट की मानें तो इसी के साथ रिलीज़ हुए अर्जुन कपूर की फिल्म ‘इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड’ का और बुरा हाल है.कमाई के मामले में यह फिल्म ‘पीएम नरेन्द्र मोदी’ से पीछे रही.हालांकि, रिपोर्ट की मानें तो दोनों ही फिल्मों ऑडियंस के लिए सिनेमा घरों में तरसती नजर आ रही है.इन बॉलिवुड फिल्मों के साथ रिलीज़ हुई हॉलिवुड फिल्म ‘अलादीन’ ने दोनों फिल्मों को कड़ी टक्कर दी है.

पहले ही दिन विल स्मिथ की ऐक्टिंग वाली इस फिल्म ने 4 करोड़ से ज्यादा की कमाई कर ली है.अलादीन: करीब 4-4.25 करोड़,इंडियाज़ मोस्ट वॉन्टेड,करीब 1.75-2 करोड़,पीएम नरेन्द्र मोदी,करीब 2.25-2.50 करोड़.

मोदी ने किस तरह गुजरात के सीएम से लेकर भारत के पीएम तक की गद्दी हासिल की,इसी कहानी को कहती नजर आ रही हैं यह फिल्म.नरेंद्र मोदी के बचपन से लेकर प्रधानमंत्री बनने तक की कहानी कहती इस फिल्म की कहानी की शुरुआत 2013 की बीजेपी की उस बैठक से होती है,जिसमें नरेंद्र मोदी (विवेक ओबेरॉय) को प्रधानमंत्री का उम्मीदवार घोषित किया जाता है.उसके बाद फिल्म फ्लैशबैक में चली जाती है,जब मोदी रेलवे स्टेशन पर चाय बेचते थे.उमंग कुमार निर्देशित इस फिल्म में नरेन्द्र मोदी की भूमिका निभाई है विवेक ओबेरॉय ने.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here