महागठबंधन ने दो प्रत्याशियों का किया एलान,बीजेपी के गढ़ में…

0
518
AKHILESH-JAYANT-MAYAWATI

साल की शुरुआत में हुए सपा बसपा गठबंधन हमें दोनों पार्टियों ने 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया था।जबकि दो सीटें रालोद के लिए छोड़ी गई थी।हालांकि इस दौरान सपा बसपा ने रालोद को दी जाने वाली सीटों का ऐलान नहीं किया था।गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव को बहुत ही कम समय रह गया है।जिसके चलते सपा-बसपा गठबंधन टिकट आंवटन तेजी से कर रहा है।

अब खबर सामने आ रही है कि रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी पार्टी की परम्परागत सीट बागपत लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे।बताया जा रहा है कि समाजवादी पार्टी ने रालोद के लिए एक सीट कुर्बान कर दी है।सपा को 37 और बसपा को 38 सीटें मिली हैं।मुजफ्फरनगर,बागपत के साथ अब मथुरा सीट आरएलडी के झोली में डाल दी गई है।

सपा-रालोद

बताया जा रहा है कि लोकसभा चुनाव को लेकर अब सपा बसपा गठबंधन में शामिल आरएलडी भी चुनावी मूड में आ गई है।बागपत में आरएलडी उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने एक जनसभा का आयोजन किया है।रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने पुलवामा ह’मले के बाद हैदराबाद की कराची बेकरी का नाम बदलने की मांग करने वाले लोगों को गलत ठहराया है।

इसके साथ उन्होंने देश में कथित राष्ट्रभक्ति के नाम पर प्रोपेगेंडा चला रहे संगठनों के लोगों पर ह’मला बोलते हुए कहा है कि कुछ लोग हाथ में तिरंगा लेकर देशभक्ति दिखा रहे हैं।ऐसे लोगों पर सवाल खड़ा करते हुए उन्होंने कहा कि ये कैसी देश भक्ति है?जिसमें किसी एक धर्म के लोगों को निशाना बनाया जाता है।जोकि भारत के ही नागरिक हैं।इसके साथ उन्होंने चुनावी मुद्दों पर बोलते हुए कहा कि चुनाव में सपा और बसपा को हमारे कार्यकर्ता सम्मान देंगे।उनके कार्यक्रमों में भी शामिल रहेंगे।

सपा-रालोद

राजनीतिक सूत्रों की मानें तो रालोद अध्यक्ष अजीत सिंह चौधरी के मुजफ्फरनगर से चुनाव लड़ने के संकेत मिल रहे हैं।वहीँ अब तक पार्टी ने मथुरा से कौन चुनाव लड़ेगा? ये स्पष्ट नहीं किया है।बता दें कि रालोद के प्रभाव वाले अन्य जिलों में बसपा को ज्यादा सीटें मिली हैं।ये सीटें हैं सहारनपुर,बिजनौर, नगीना,अमरोहा,मेरठ,गौतमबुद्ध नगर,बुलंदशहर,अलीगढ़,आगरा और फतेहपुर सीकरी।इनमें से आगरा और गौतमबुद्ध नगर सीट छोड़कर अन्य सीटों पर रालोद का प्रभाव काफी ज्यादा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here