हाल में करवाए गये इंटरनल सर्वे से भाजपा को ध क्का,अमित शाह ने अब….

0
462

लोकसभा चुनाव को लेकर देश के अहम राज्यों में कराये गए बीजेपी के आंतरिक सर्वे में पहले सर्वे के मुकाबले 79 सीटें कम आयी हैं.इससे पहले दिसंबर में पार्टी द्वारा पहला आंतरिक सर्वे कराये जाने की बात सामने आयी थी.पार्टी सूत्रों के मुताबिक बीजेपी ने उत्तर प्रदेश,हरियाणा,पंजाब,राजस्थान, मध्य प्रदेश,छत्तीसगढ़,महाराष्ट्र,बिहार,झारखंड,गुजरात,पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में आंतरिक सर्वे कराया गया था.

यह सर्वे 7 फरवरी से 10 फरवरी के बीच में कराया गया था.सूत्रों के मुताबिक पार्टी ने पहला सर्वे 27 जनवरी से 02 फरवरी के बीच कराया था इसमें पार्टी को 250 से 260 सीटें तक मिलने की सम्भावना जताई गयी थी.वहीँ ताजा सर्वे में पार्टी को बड़ा नुकसान होता दिखाई दे रहा है और पार्टी 200 सीटों के आंकड़े से भी पिछड़ रही है.

AMIT SHAH

सूत्रों के मुताबिक ताजा आंतरिक सर्वे में पार्टी को 170 से 180 सीटें तक मिलने की सम्भावना जताई गयी है.सूत्रों ने कहा कि सर्वे में आमने आया है कि कांग्रेस शासित राज्यों के अलावा बीजेपी शासित राज्य उत्तर प्रदेश,हरियाणा,गुजरात,बिहार और महाराष्ट्र में पार्टी की स्थति 2014 जैसी नहीं है.सूत्रों ने बताया कि 2014 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश,गुजरात,हरियाणा,बिहार और महाराष्ट्र में पार्टी द्वारा बम्पर सीटें जीते जाने के बावजूद 2019 में इन राज्यों में अहम सीटों पर बीजेपी की स्थति अच्छी नहीं है.

सर्वे में सामने आया है कि उत्तर प्रदेश में अधिकांश सीटों पर सपा बसपा गठबंधन बीजेपी पर भारी पड़ता दिख रहा है.वहीँ गुजरात और हरियाणा में सरकार विरोधी लहर है.इन राज्यों में बीजेपी को एंटी इन्कमवेंसी का सामना करना पड़ेगा.सूत्रों ने कहा कि सर्वे रिपोर्ट में इस बात को साफ़ तौर पर कहा गया है कि गुजरात में फिर से सभी 26 सीटें जीतना मुमकिन प्रतीत नहीं होता.

Photo Credit-livemint

यहाँ सरकार विरोधी रुख के अलावा पाटीदार और किसान मतदाताओं की बीजेपी से नाराज़गी पार्टी को भारी पड़ सकती है.सूत्रों ने बताया कि बिहार और महाराष्ट्र में गठबंधन होने के बावजूद पार्टी और सहयोगी दलों के लिए मुश्किल हो सकती है.बिहार और महाराष्ट्र में किसानो की नाराज़गी से बीजेपी को झटका लग सकता है.

बिहार-झारखंड में जहाँ जातिगत गणित सिर चढ़कर बोलता है वहां विपक्ष का गठजोड़ बीजेपी को कड़ी चुनौती देगा और कई सीटों पर पार्टी को मामूली अंतर् से सीट गंवानी पड़ सकती हैं.सूत्रों की माने पिछले सर्वे के मुकाबले ताजा सर्वे में बीजेपी को 79 सीटों का घाटा होता दिख रहा है.इनमे पार्टी को बड़ा घाटा उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश,छत्तीसगढ़,राजस्थान और बिहार में होगा.

Amit Shah (Left)-Narendra Modi(Right)

इतना ही नहीं महाराष्ट्र,गुजरात और हरियाणा में भी पार्टी को 2014 के मुकाबले कम सीटें मिल रही हैं.भारतीय वायु सेना द्वारा पाक पर की गयी एयर स्ट्राइक का बीजेपी को फायदा मिलेगा अथवा नहीं?इस बारे में सूत्रों ने कहा कि पार्टी का यह आंतरिक सर्वे पुलवामा हमले से पहले कराया गया था.सूत्रों ने कहा कि सम्भव है कि पार्टी अपना चुनाव पूर्व आखिरी आंतरिक सर्वे जल्द ही कराये। यह सर्वे चुनाव आयोग द्वारा चुनाव की तारीखों के एलान के बाद कराया जा सकता है.
खबर सौजन्य- लोकभारत डॉट इन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here