कांग्रेस से चुनाव लड़ेंगे दो दिग्गज फिल्म अभिनेता,पार्टी में ख़ुशी की लहर

0
3920
महेश मांजरेकर,सलमान खान

फिल्म अभिनेता एवं निर्देशक महेश मांजरेकर को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है.बेहतरीन अदाकारी और अपने निर्देशन में कई बेहतरीन फिल्में बनाने वाले महेश मांजेकर इस साल सितंबर-अक्तूबर में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव उतरेंगे और कांग्रेस की तरफ से चुनाव लड़ेंगे.आपको बता दें कि साल 2014 में महेश ने राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के टिकट पर अपनी किस्मत आजमायी थी.

वे मुंबई उत्तर-पश्चिम लोकसभा सीट से चुनाव लड़े लेकिन कामयाब नहीं हो सके.राज ठाकरे और महेश अच्छे दोस्त हैं लेकिन मौजूदा समय में महेश मांजरेकर कांग्रेस का दामन थाम चुके हैं.इस बारे में महेश ने कहा कि “ मैंने राज से बातचीत के बाद यह कदम उठाया है.मैं कांग्रेस के टिकट पर 2019 में विधानसभा चुनाव लड़ूंगा.”

कांग्रेस की रैली का चित्र

60 साल के महेश ने पत्रकारों से बात की और बताया कि “राज मेरे अच्छे दोस्त हैं लेकिन महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चव्हाण से मेरी 42 साल की दोस्ती है.इस बार मैं कांग्रेस की तरफ से चुनाव लड़ूंगा और मेरे सामने राज अपनी पार्टी का उम्मीदवार नहीं खड़ा करेंगे.”महेश मांजरेकर के बारे आपको और जानकारी दे दें कि वे बॉलीवुड में पिछले 20 साल से काम कर रहे हैं और एक बेहतरीन निर्देश भी हैं लेकिन अब वे एक कदम और आगे बढ़कर जनता और कला-संस्कृति के लिए जमीन से जुड़ कामकर काम करना चाहते हैं.

इस एक्टर की भी चर्चा-एक्टर आशुतोष राणा राजनीति में उतरने का मन बना रहे हैं.हालांकि उन्होंने अधिकृत तौर पर इसका खुलासा नहीं किया है.कांगे्रस सूत्रों की माने तो पार्टी नेताओं ने हाल ही में उनसे जबलपुर सीट से लोकसभा चुनाव लडऩे को लेकर चर्चा की है.इसमें उनके पारिवारिक सदस्य एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामेश्वर नीखरा की अहम भूमिका रही है.

नीखरा के जरिए ही कांग्रेस ने आशुतोष राणा को जबलपुर से चुनाव मैदान में उतरने का प्रस्ताव दिया है.हालांकि उन्होंने अभी तक कांग्रेस के इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं किया है,लेकिन कांग्रेस उनसे लगातार संपर्क में हैं.राणा जल्द ही अपने गुरु से इस संबंध में चर्चा करने के बाद राजनीति में उतरने का निर्णय लेंगे.फिलहाल उनकी ओर से चुनाव लडऩे से इंकार किया है.

फिल्म अभिनेता आशुतोष राणा का जबलपुर से गहरा नाता रहा है.मूलत: नरसिंहपुर के रहने वाले आशुतोष राणा मुंबई में बसने के बाद भी अपने क्षेत्र से जुड़े रहे हैं.वे दद्दाजी के धार्मिक अनुष्ठानों के जरिए क्षेत्र में लगातार सक्रियता बनाए हुए हैं.श्री राणा की स्कूली शिक्षा जबलपुर में ही हुई है, वे क्राइस्टचर्च ब्वॉयज स्कूल से अध्ययन कर चुके हैं और जबलपुर में उनके काफी परिचित हैं.यदि वे चुनाव लड़ते भी हैं तो उनके ऊपर भाजपा बाहरी प्रत्याशी होने का आरोप नहीं लगा सकती.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here