कांग्रेस में शामिल होने के बाद रमाकांत ने दिया ऐसा बयान कि सपाई आये जोश में

भाजपा से बगावत करके बाहुबली नेता रमाकान्त यादव कांग्रेस में शामिल हो गये है वो भदोही से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे,कांग्रेस में शामिल होने के बाद उन्होंने आजमगढ़ में अपने समर्थको को ख़ास सन्देश दिया है.ये सन्देश सपा समर्थको के लिए सकारात्मक है.

0
684

पूर्वांचल में भाजपा को बड़ा झटका लगा है,पार्टी के कद्दावर नेता रमाकांत यादव ने भाजपा को छोड़ दिया है अब वो भाजपा पर जमकर प्रहार कर रहे है.रमाकांत ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर लिया है अब वो भदोई से अपनी किस्मत आजमाने जा रहे है.कांग्रेस में शामिल होने के बाद आजमगढ़ से बीजेपी के पूर्व बाहुबली सांसद रमाकांत यादव के सुर बदल गये है.शनिवार को उन्होंने बीजेपी पर जमकर हमला बोला.

रमाकांत यादव ने कहा कि सबका साथ सबका विकास का नारा देने वाली बीजेपी मुस्लिम,दलित व पिछड़ों के संग भेदभाव करती है.पूर्व सांसद ने कहा कांग्रेस सभी धर्म, समुदाय, समाज को साथ लेकर चलने का काम करती है.

बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने के बाद रमाकांत ने दावा किया कि कांग्रेस 2019, 2022 व 2024 में भी भारी मतों से चुनाव जीतेगी.उन्होंने कहा कि मोदी को जनता अब गप्पू समझती है,जबकि राहुल पप्पू देश में हीरो हो गए.पूर्व सांसद ने कहा कि आजमगढ़ में गठबंधन के चलते मेरे समर्थक अखिलेश यादव को वोट करेंगे.

वहीं जनता तय करेगी कि नाचने गाने वाले को जिताना है या अखिलेश को. बता दें 2014 में उन्होंने बीजेपी के टिकट पर आजमगढ़ से सपा के मुलायम सिंह यादव के खिलाफ चुनाव लड़ा था.हालांकि उन्हें करीब 65 हजार मतों से हार का सामना करना पड़ा था.इस बार रमाकांत को उम्मीद थी कि उन्हें फिर से टिकट मिलेगा.लेकिन बीजेपी ने भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव उर्फ़ निरहुआ को दे दिया.इसी वजह से वे नाराज हो गए.

गौरतलब है कि रमाकांत यादव 1985 में आजमगढ़ से पहली बार निर्दलीय विधायक चुने गए थे. इसके बाद 1989 में बीजेपी के टिकट पर चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे थे, फिर 1991 में समाजवादी जनता पार्टी और 1993 में सपा के टिकट से विधायक बने. 1996 और 1999 में वे आजमगढ़ से सपा के टिकट पर लोकसभा पहुंचे. इसके बाद 2004 में बसपा और 2009 में फिर सपा के टिकट पर चुनाव जीतकर लोकसभा का सफ़र तय किया. रमाकांत यादव चार बार विधायक और चार बार सांसद रह चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here