महागठबंधन में कांग्रेस की भी एंट्री,अखिलेश ने कांग्रेस को इन सीटो की पेशकश की लेकिन BSP ने…

0
841
FI

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस महासचिव बनने के बाद प्रियंका गांधी एक के बाद एक बड़ा फैसला ले रही हैं।हाल ही में खबर सामने आई थी कि प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश की क्षेत्रीय पार्टी महान दल के साथ गठबंधन करने की घोषणा की है।गौरतलब है कि साल 2004 और साल 2009 के चुनावों के दौरान भी कांग्रेस और महान दल ने गठबंधन किया था।

जहां समाजवादी पार्टी और बसपा ने गठबंधन से चुनाव लड़ने का ऐलान कर कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ा दी थी।वही प्रियंका गांधी एक के बाद एक ऐसी रणनीति तय कर रही हैं जिससे गठबंधन के लिए चुनौती माना जा रहा है।आपको बता दें कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कांग्रेस के प्रियंका गांधी के महासचिव बनाये जाने के कदम को काफी सराहा था।

अखिलेश-राहुल

अब खबर सामने आ रही है कि अखिलेश यादव कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के बारे में विचार कर रहे हैं।माना जा रहा है कि जल्द ही सपा और कांग्रेस इस गठबंधन का ऐलान कर सकते हैं।गौरतलब है कि आने वाले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को मात देने के लिए कांग्रेस को उत्तर प्रदेश में उन्हें कम से कम सीटों पर रोकना की सबसे बड़ी चुनौती है।

राजनीतिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अगर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी के बीच गठबंधन की सहमति बनती है तो सपा अपने हिस्से की 5 सीटें कांग्रेस को दे सकती है।यह वहीं सीटें हैं जहां से वह 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस दूसरे नंबर पर रही थी। इससे पहले 2 सीटें रायबरेली और अमेठी गठबंधन ने पहले से ही कांग्रेस के लिए छोड़ रखी थी।

क्योंकि यह 2 सीटों पर कांग्रेस को भारतीय जनता पार्टी कभी भी हरा नहीं पाई है।इसके साथ बसपा ने भी अपने दो दर्जन से ज्यादा उम्मीदवार चुन लिए हैं।जिसके मुताबिक नोएडा से बसपा संजय भाटी,मेरठ से याकूब कुरेशी,गाजीपुर से अफजल अंसारी,घोसी से अतुल राय,देवरिया से विनोद जायसवाल और सलेमपुर से बसपा प्रदेश अध्यक्ष आर एस कुशवाहा को उतारेगी।

आपको बता दें कि इस बार के लोकसभा चुनाव का माहौल यह है कि सभी राजनीतिक पार्टियां किसी भी कीमत पर भारतीय जनता पार्टी को हराना चाहती है। वही अखिलेश नही चाहते है यूपी में कांग्रेस उनके चाचा शिवपाल की पार्टी प्रसपा से गठबंधन करे.इसी के चलते चुनाव से पहले कई सियासी बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here