भाजपा को करारा झटका देने में कांग्रेस हुई सफल,NDA में बड़ी टूट

0
1212
प्रियंका गांधी-राहुल गांधी

उत्तर प्रदेश की राजनीति में मचे घमासान में BJP पूरी तरह से उलझ चुकी है.माना जा रहा है कि साल 2014 में जिस तरह से बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में बहुमत से लोकसभा चुनाव जीता था इस बार समीरकरण उसके बिल्कुल विपरीत है.गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी पार्टियां इस वक्त उत्तर प्रदेश में उनसे नाराज चल रही हैं और इस लोकसभा चुनाव में उनसे गठबंधन ना करने की चेतावनी दे चुकी है.

इसी कड़ी में बीजेपी के अहम सहयोगी दल अपना दल से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है.बताया जा रहा है कि पार्टी की संरक्षक अनुप्रिया पटेल और अध्यक्ष आशीष पटेल ने दिल्ली में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात की है.बताया जा रहा है कि दोनों पार्टियों में यह मुलाकात काफी लंबे वक्त तक चली है.

अनुप्रिया पटेल

राजनीतिक सूत्रों के जरिए यह खबर सामने आ रही है कि अपना दल इसी महीने एनडीए से अलग होने का औपचारिक ऐलान कर सकती है.इसके बाद कांग्रेस के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ने का फैसला ले सकती है.जहाँ आशीष पटेल ने कहा कि हमारी एनडीए में कभी नहीं सुनी गई,अब हम निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र हैं.वहीँ अनुप्रिया पटेल ने केंद्र सरकार पर और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा.

अनुप्रिया पटेल ने कहा कि बीजेपी को सहयोगी दलों की समस्याओं से कोई लेना-देना नहीं है.अब हमारी पार्टी अपना रास्ता चुनने के लिए पूरी तरह से स्वतंत्र हैं.बता दें कि उत्तर प्रदेश की क्षेत्रीय पार्टी अपना दल के संरक्षक अनुप्रिया पटेल ने 28 फरवरी को एक अहम बैठक बुलाई है जिसमें पार्टी बीजेपी से अलग होने का ऐलान कर सकती हैं.

अमित शाह

गौरतलब है कि बीते कई महीनों से ही अपना दल ने भारतीय जनता पार्टी को बगावती तेवर दिखाने शुरू कर दिए थे.पार्टी संरक्षक अनुप्रिया पटेल ने बीजेपी को 20 फरवरी तक का वक्त दिया था ताकि उनकी समस्याओं पर काम किया जाए लेकिन बीजेपी ने इसका कोई समाधान नहीं निकाला जिसके चलते पार्टी ने एनडीए गठबंधन से अलग होने का फैसला ले लिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here