बिजनौर:मुस्लिमो के ट्रेंड किया बड़ा उलटफेर,वोटिंग के बाद किसके खेमे में है ख़ुशी ?

0
1138

बिजनौर-हिन्दू और मुस्लिम ट्रेंड के आधार पर वोटिंग के ट्रेंड के लिए जाने जानी वाली बिजनौर सीट पर मतदान के बाद भाजपा की नींद उडती दिखाई दे रही है.इसकी बड़ी वज़ह है बसपा के मलूक नागर के पक्ष में गुर्जर समुदाय का मतदान.जानकारों के अनुसार,मलूक नागर ने अपने सजातीय गुर्जर समुदाय में समर्थन पाने में सफल रहे है.

भाजपा के लिए एक संतोष की बात बस ये रही कि सपा-बसपा में जाट समुदाय की पार्टी रालोद यहाँ पर जाट मतदाताओ को महागठबंधन के पाले में लाने में पूरी तरह सफल नही रही.ऐसी खबरे है कि इस बार यहाँ पर जाटो ने भाजपा के पक्ष में वोटिंग की है लेकिन जाट बहुल बूथ स्वहेडी,सलमाबाद गड़ी,मंडावली,क़स्बा झालू में महागठबंधन समर्थन पाने में सफल रहा वही महागठबंधन को मुस्लिम और दलित इलाके वाले बुथो जमकर समर्थन मिला.

कांग्रेस प्रत्याशी नसीमुद्दीन सिद्दीकी बिजनौर में कुछ ख़ास प्रभाव नही डाल पाए,कांग्रेस को मुस्लिम समुदाय के चंद बुथो पर ही वोट मिला,अधिकतर ज़गहो पर उनके कार्यकर्ताओ के बस्ते तक दिखाई नही दिए,बसपा के बागी नेता इकबाल ठेकेदार के असर वाले तीन गाँव में ही कांग्रेस को मुस्लिम वोट देते नजर आये.BJP के पक्ष में वोटिंग करने के लिए जाने जाने शिवपुरी,सिकरेडा,जमालपुर,देवल और कैलापुर गाँव में इस बार गठबंधन का जलवा दिखा.

इस बार बिजनौर में 65.3 पर्तिशत मतदान हुआ है जोकि पिछली बार से दो पर्तिशत कम है.वोटिंग के प्रति गाँव में अधिक उत्साह रहा वही शहरो में उत्साह में कमी दिखाई दी,यदि मुस्लिम और दलित बाहुल्य गाँव में वोटिंग पैटर्न का अध्ययन किया जाए फिर नजर आता है सबसे अधिक मतदान दलित और मुस्लिम समुदाय ने किया है.

कौन जीत सकता है चुनाव-बिजनौर में इस बार सीधा मुकाबला है,एक तरफ भाजपा के प्रत्याशी कुंवर भारतेन्द्र सिंह और दूसरी तरफ बसपा गठबंधन से मलूक नागर.नसीमुद्दीन सिद्दीकी से बाहर दिख रहे है,मुस्लिम दलित और गुर्जर वोटिंग ट्रेंड के बाद महागठ्बंधन का पलड़ा भारी दिख रहा है.वरिष्ठ पत्रकार पूण्य प्रसून बाजपाई ने इस सीट पर गठबंधन की जीत की भविष्यवाणी की है वही नवभारत टाइम्स के पत्रकार नदीम के अनुसार,यहाँ सीधा गठबंधन और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर है.अब देखना है 23 मई को किसके सर जीत का चेहरा सजता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here