सुधीर और अर्नब पर आई बड़ी आफत,नौसेना के अधिकारीयों ने…

0
2554

देश में इस वक़्त पत्रकारिता की जिस तरह की स्थिति है।उससे हम सब भली भांति वाकिफ हैं।कुछे मीडिया संस्थानों को छोड़कर इस वक़्त सभी पैसों के लालच में बिक चुके हैं।गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद मोदी समर्थक चैनलों पर पाकिस्तान से ब’दला लेने की खबरें जमकर दिखाई जा रही हैं।

मीडिया पर दिखाई जा रही इन खबरों से देश में आक्रोश और बढ़ाया जा रहा है।पाकिस्तान के नाम पर अब राजनीतिक दल चुनाव के मुद्दे को भुनाने में जुटे हैं।दरअसल मीडिया पर दिखाई जा रही भड़काऊ रिपोर्टिंग के खिलाफ अब नौसेना के अधिकारी उत्तर आये हैं।नौसेना के इन अधिकारियों ने देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखा है।जिसमें उन्होंने हाल ही हुए आतंकी हमले में शहीद हुए सेना के जवानों के लिए रोष जाहिर किया है।

नौ सेना

इसके साथ उन्होंने ज़ी न्यूज़ और रिपब्लिक टीवी के चीफ एडिटर की रिपोर्टिंग पर विरोध जताया है।उनका कहना है कि टीवी चैनलों के एंकर दिन- रात जं;ग और यु’द्ध को बढ़ावा देकर देश को युद्ध लड़ने के लिए उकसाने में लगे हुए हैं।मीडिया चैनलों की इस तरह की रिपोर्टिंग देश की जनता के लिए ठीक नहीं है।

आपको बता दें कि पूर्व नौसेनाध्यक्ष एडमिरल रामदास ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लिखे पत्र में कहा कि यह बहुत ही जरूरी है कि देश की स्थिति को और खराब होने से रोका जाना चाहिए.इसके साथ ही भारत-पाकिस्तान की दुश्मनी को भी एक हद से ज्यादा नहीं बढ़ने देना चाहिए।उन्होंने राष्ट्रपति को संबोधित इस पत्र में कहा है कि सेनाओं के सुप्रीम कमांडर हैं।

अर्नब गोस्वामी

आपको हमारे वर्तमान नेताओं की सोच से भी सावधान रहना होगा।इस वक़्त भारत और पडोसी मुल्क परमाणु शक्ति सम्पन्न है।इसलिए दोनों देशों को जं;ग के मैदान में आमने-सामने होने से बचना चाहिए।न्यूज़ चैनलों के एंकर अपने स्टूडियो में बैठकर रात-दिन यही चिल्ला रहे हैं कि भारत को बिना कुछ सोचे समझे पाकिस्तान पर हमला कर देना चाहिए।ऐसी खबरों का कोई सिर-पैर भी नहीं है।ऐसे एंकरों में अरनब गोस्वामी,सुधीर चौधरी समेत अन्य एंकर शामिल हैं।एडमिरल रामदास ने अपने पत्र में टीवी चैनलों के इस दुष्प्रचार पर रोक लगाने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here