जानिए क्यों इस अफजाल को पी’टा गया? अब बिहार सरकार पी-ड़ित मुस्लिम के खिलाफ ही जांच करवाएगी

0
366

बिहार के कटिहार ज़िले में वनदे-मातरम् गीत को लेकर वि-वाद शुरू हो गया है.एक वीडियो वायरल होने के बाद वहां के लोगों ने जमकर ब-वाल काटा है.और एक मुस्लिम टीचर के साथ मा’र-पीट की है.मुस्लिम टीचर की पि-टाई के बाद मामले ने अब तूल पकड़ लिया है.दरअसल कटिहार जिले में बीते गणतंत्र दिवस के मौके पर एक प्राथमिक स्कूल में ध्वजारोहन के दौरान मुस्लिम शिक्षक ने वंदे-मातरम गीतगाने से मना कर दिया था.


वहीँ उस वक़्त किसी ने मामले का पूरा वीडियो बना लिया.और उसे वायरल कर दिया.वीडियो वायरल होने के बाद मुस्लिम टीचर के साथ मार-पीट की गई है.वहीँ इस मामले को लेकर बिहार के शिक्षामंत्री का भी बयान आ गया है.उनका कहना है कि मामले के जांच के बाद उस टीचर पर कार्रवाई की जाएगी.शिक्षामंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने कहा है कि वनदे-मातरम् को लेकर किसी तरह का वि-वाद माफी के लायक नहीं है.

ये अपमान की बात है और जांच के बाद अगर टीचर को दोषी पाया गया तो सजा दी जायेगी.आप को दें कि कटिहार के प्राथमिक विद्यालय के टीचर अफ़ज़ल हुसैन ने 26 जनवरी को ‘वंदे मातरम’ गाने से इनकार कर दिया था.इस मामले में वीडियो वायरल होने के बाद जब टीचर अफजल हुसैन से पुछा गया क्या तुम ने वनदे मातरम् गीत गाने से मना किया था तो उन्होंने कहाकि हां,मैंने गणतंत्र दिवस के दिन वंदे मातरम नहीं गाया,क्योंकि यह हमारे धार्मिक आस्था के खिलाफ है।

अफ़ज़ल हुसैन ने कहा कि हम अपने देश से अपनी जान से भी ज़्यादा मोहब्बत करते हैं लेकिन हम इबादत सिर्फ अल्लाह की करते हैं.और वनदे मातरम् गीत का मतलब इबादत करना होता है इस लिए मैंने यह गीत नहीं पढ़ी थी.वहीँ अफ़ज़ल का यह भी कहना है कि संविधान ने भी इस गाने को ज़रूरी नहीं कहा है.

वहीँ टीचर अफ़ज़ल हुसैन की पिटाई का मामला अब चर्चा का विषय बना हुआ है.वहीँ इस मामले को लेकर जब मीडिया ने जिला शिक्षा अधिकारी दिनेश चंद्र देव से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस घटना के बारे में कोई शिकायत नहीं मिली है.अगर हमें ऐसी कोई शिकायत मिलती तो इसकी जांच की जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here