आम के पत्ते बढ़ा देता है मर्दाना ताकत,इन बीमारियों को जड़ से खत्म करता है,ऐसे करे प्रयोग

0
1140
आम के पत्ते के फायदे

जिस तरह तमाम जानवरों का बादशाह शेर को कहा जाता है इसी तरह तमाम फलों का बादशाह आम को कहा जाता है।कुछ आम ज़ायक़ा में खट्टे और नमकीन होते हैं कुछ खट्टे मीठे होते हैं और कुछ बहुत ज़्यादा मीठे होते हैं।यह एक ऐसा फल है जिसे छोटे बड़े ग़रीब अमीर सभी बड़े शौक़ से खाते हैं। आम के रेशे दाँतों की मेल कुचैल साफ़ करते हैं.

दाँतों के मसूड़ों को मज़बूत बनाते हैं ये चेहरे का रंग निखारता है और उम्दा ख़ून पैदा करता है इस का मुरब्बा और अचार भी बनाया जाता है।मुरब्बा खाने से दिलो दिमाग और मादे को ताक़त मिलती है और अचार बतौर सालन इस्तिमाल किया जाता है।आम के फल के इलावा उस के पत्तों छाल फूलों और इस की गुठली में बहुत शिफा है।इस से कई बीमारी दूर हो जाती है।

आम का पत्ता

पुराने हुकमा-ए-अब भी नसल दर नसल उस के पत्तों फूलों जड़ों छाल और गुठली से नुस्ख़ा जात तैयार करते रहे हैं।कुछ नुस्खे हम यहाँ पर आप के लिए पेश कर रहे हैं,ताकि आप भी उस से फायदा उठा सकें।हम अपने नुक्से में आम और उसके पत्ते किस किस बीमारी में फायदा पहुचाते है बताते है.

1-आम बलग़म को पतला करके उसे आसानी से ख़ारिज करता है-अगर को खासी से बहुत परेशांन है तब उसे आम के रस को धीमी आंच में गर्म करे और उसके हल्दी थोड़ी सी मिला.जब आम का जूस गुनगुना हो जाए तो इसका सेवन करे.किसी भी प्रकार की खांसी को 48 घंटे में खत्म कर देगा.गले के दर्द में भी आराम पहुचायेगा.

मैंगो शेक

2-मनी को गाढ़ा करता है-आम का जूस सेहत के लिए बहुत मुफीद चीज़ है.आम का जूस स्पर्म को गाड़ा करता है.बेहतरीन ख़ून पैदा करता है।क़ुव्वत-ए-बाह में बेपनाह इज़ाफ़ा करता है।अगर नियम रूप से एक हफ्ता जूस पी ले फिर देखे फायदा.कमज़ोरी एक हफ्ते में खत्म हो जाएगी.

3-पेशाब आना बंद हो जाये फिर-कच्चा और गाढ़ा आम देर से हज़म होता है।आम खाने के बाद दूध की कच्ची नमकीन लस्सी लस्सी पीनी चाहिए इस से खुल कर पेशाब होता है और तबीयत हल्की फुल्की हो जाती है.

4-अगर किसी को बिच्छू ने या ज़हरीले जानवर ने डस लिया हो उसे आम की गुठली को पानी में रगड़ कर गर्म करके मुतास्सिरा जगह पर मालिश करें,ज़हर और दर्द दोनों दूर हो जाएंगे।

आम का पत्ता

5-अगर किसी को ज़हरीले साँप ने डस लिया हो तो आम की गुठलियां दो अदद मिर्च स्याह तीन दाना दोनों को पानी में रगड़ कर मरीज़ को पिलादें। थोड़ी देर बाद सर्दी महसूस होगी और ज़हर ख़त्म हो जाएगा।साथ साथ तीन दिन तक प्याज़ काट कर भी खिलाते रहें।

6-अगर किसी को त्वचा और किसी प्रकार की स्किन एलर्जी है तब उसके पानी में आम के पत्ते रात में डाल दे उसके बाद सुबह उसी पानी से नहाए.नियमित प्रयोग करने से त्वचा की बीमारी खत्म हो जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here