बिना पर्दे के रहने वाली रहमान की बेटी अब क्यों पहनती है नक़ाब? सामने आई वज़ह

0
1376
ऐ.आर.रहमान की बेटी-FI

बीते दिनों ऑस्कर पुरस्कार विजेता संगीतकार ए आर रहमान और उनकी बेटी खादीजा का एक विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था,इस विडियो में बाप बेटी बात चीत कर रहे थे लेकिन इस विडियो की सबसे खास बात और चर्चा में आने की वजह यह रही कि ए आर रहमान की बेटी खदीजा बुर्का पहने हुये थीं।

विडियो के सोशल मीडिया पर आने के बाद कहा जाने लगा कि ए आर रहमान अपनी बेटी को ज़बरदस्ती बुर्का पहनाते हैं और इसे लेकर ए आर रहमान को लोगों ने निशाने पर लेना शुरू कर दिया।लेकिन इसके बाद खुद ए आर रहमान की बेटी सामने आईं और उनकी कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुईं,खदीजा ने सामने आकर कहा कि मैं अपनी मर्ज़ी से बुर्का पहनती हूँ,कोई मेरे साथ में ज़बरदस्ती नहीं करता है।

A.R.RAHMAN

जाने क्यों पहनने लगी बुर्का ?
खदीजा कहती है कि वो पहले बुर्का नही पहनती थी लेकिन इस्लाम पर उसका अटूट विश्वास था लेकिन बाद में उन्होंने महसूस किया उन्हें पर्दे रहकर अपनी ज़िन्दगी शर्रियत के हिसाब से गुज़ारना चाहिए.खदीजा कहती है जब से वो पर्दे में रहने लगी उनको रूहानी सुकून मिलता है.ये मेरा अपना फैसला है जो अल्लाह को राज़ी करने के लिए है.

खदीजा(लेफ्ट_)
रहमान की बेटी

दोस्तों अल्लाह ताला कब किसे हिदायत दे दे कुछ कहा नहीं जा सकता है,एक समय था जब ए आर रहमान भी काफी परेशान रहा करते थे,और वह सोचने लगे थे कि अब वह खुदकशी कर लेंगे,लेकिन उन्हें हिदायत मिली और वह सूफियों के करीब हुये और एक दिन वह कलमा पढ़ कर मुसलमान हो गए।उसके बाद से वह आज तक मुसलमान ही हैं।और अब उनकी बेटी ने भी दुनिए के सामने एक मिसाल बना कर दिखा दी है।

आज जब दुनिया भर में बुर्का को लेकर बवाल खड़ा किया जाता है,और कहा जाता है कि इस्लाम बुर्के की आड़ में महिलाओं के अधिकारों का हनन कर रहा है, ऐसे माहौल में ए आर रहमान की बेटी बुर्का पहेन रही हैं,यह उन पर अल्लाह की हिदायत है।और अल्लाह ताला की तरफ से उनके दिल में बुर्के के लिए और अपनी इज्ज़त के लिए मोहब्बत है,वह बेपर्दा रहकर अपनी इज्ज़त को बाज़ार में नीलाम नहीं करना चाहती हैं,इसी लिए वह बुर्का पहेनती हैं।

खदीजा इस बारे में खुद कहती हैं कि बुर्के के लिए मेरे दिल में मोहब्बत है और यह मेरा फैसला है,कभी मेरे पिता ने मुझे किसी चीज़ के लिए मजबूर नहीं किया है,वहीं इस मामले पर बाद में ए आर रहमान का भी बयान आया था,उन्होने कहा था कि मेरी बेटी जो भी काम करती है,वह अपने मर्ज़ी से करती है,आर उसे अपनी ज़िंदगी जीने और अपनी पसंद से रहने का अधिकार है।मैंने कभी बेटी की जिंदगी में दखल नहीं दी है।

विडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद ए आर रहमान की बेटी खदीजा ने फेसबूक पर एक पोस्ट लिखा था, पोस्ट के मुताबिक उन्होने कहा था कि मैं बताना चाहूंगी कि जो कपड़े मैं पहनती हूं या जो फैसले मैं जिंदगी में लेती हूं,उनका मेरे माता-पिता से कोई लेना-देना नहीं है। बुर्का पहनना मेरा निजी फैसला था। मैं वयस्का हूं और अपनी जिंदगी के फैसले लेना जानती हूं।इस पोस्ट के आने के बाद उन लोगों का मुंह बंद हो गया था, जो बुर्के को लेकर ए आर रहमान को निशाने पर लिए हुये थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here