राजस्थान -बैंक कैशियर को पुलिस ने पकड़ा ,बड़े लोगो के कालाधन को सफ़ेद कर रहा था

राजस्थान -बैंक कैशियर को पुलिस ने पकड़ा ,बड़े लोगो के कालाधन को सफ़ेद कर रहा था

Posted by

योगेंद्र मीणा पिछले कई सालों से एसबीबीजे दौसा में कार्यरत है। बताया जा रहा है कि 8 नम्बर को नोटबंदी के बाद से ही मीणा ने ऐसे बड़े लोगों को ढूंढ लिया, जिनके पास काफी तादात में काला धन था।

योगेंद्र के सम्पर्क में तीन लोग आए जिनके रुपये बदलने के लिए योगेंद्र पूरी शिद्दत से लग गया और अब तक 1 करोड़ 1 लाख रुपये ब्लैक मनी को व्हाइट कर दिया।

Loading...

आरबीआई की शुरुआती जांच में सामने आया कि योगेंद्र ने 10 से 25 नवंबर के बीच फर्जी आईडी लेकर ये रुपये बदलवाए हैं। सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि योगेन्द्र ने ये 1 करोड़ 1 लाख रुपये बदलवाने के लिए तीन ही आईडी का इस्तेमाल किया।

मामला सामने आने के बाद प्रबंधन ने योगेंद्र मीणा को निलंबित कर दिया। योगेन्द्र ने दो लोगों के नाम से 97 लाख और एक अन्य के नाम से 4 लाख कैश बदला।

कोतवाली पुलिस ने बैंक के अधिकारियों को जयपुर सीबीआई में मामले की शिकायत करने के लिए निर्देषित किया गया है। हांलाकी बैंक प्रबंधन ने पूरे मामले की एक शिकायत दौसा कोतवाली में भी दी है। जिसके आधार पर कोतवाल संजय गोदारा ने बताया कि इस मामले की जांच सीबीआई करेगी।

Loading...