​इस गांव के लोग अभी भी सोचते है देश में कांग्रेस की सरकार कभी नहीं देखा 1000,500 का नोट।

​इस गांव के लोग अभी भी सोचते है देश में कांग्रेस की सरकार कभी नहीं देखा 1000,500 का नोट।

Posted by
Loading...

एक तरफ दावा किया जा रहा है कि नोटबंदी के बाद पूरा देश लाइन में लगा है लेकिन देश में ही कुछ ऐसे लोग मौजूद हैं जिन्होंने अबतक ना तो 1000 रुपए का नोट देखा है ना ही वे पैसों के लिए लाइन में लगे हैं। उन लोगों को तो यह भी नहीं पता कि नोटबंदी जैसा कोई फैसला लिया भी गया है। हम बात कर रहे हैं महाराष्ट्र के एक गांव की। यह गांव पुणे से 500 किलोमीटर दूर पड़ता है। उसका नाम रोशामल है। वहां रहने वाले आदिवासियों ने बताया कि उनको तो पता ही नहीं कि 500 और 1000 के नोट चला भी करते थे। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, रोशामल गांव में रहने वाले कई लोगों को अब भी यही पता है कि देश में इंदिरा गांधी की बेटी सोनिया (जो असल में उनकी बहू हैं) की सरकार है।
गांव के लोगों ने पास क्रेडिट या डेबिट कार्ड होने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता। गांव में सड़क, बिजली, घर और पानी जैसी बुनियादी सुविधाएं भी नहीं हैं। गांववालों को नोटबंदी के बारे में भी नहीं पता। उन्हें उसकी वजह से परेशानी इसलिए नहीं उठानी पड़ रही क्योंकि वहां के लोगों पर 500 और 1000 रुपए के नोट हैं ही नहीं। हालांकि, वे लोग फिलहाल मंडी में अपने मक्का और ज्वार को बेचने के लिए नहीं जा रहे। पूछने पर वहां के लोगों ने बताया कि मंडी में इस वक्त जो चीज 13 से 15 रुपए किलो जाती थी वह इस वक्त 10 रुपए प्रति किलो जा रही है। इसलिए उन्होंने अपना सारा सामान फिलहाल रोक रखा है।

खबर के मुताबिक, गांव में सड़कें या फिर बस भी नहीं है। उन लोगों को मंडी जाने के लिए दो पहिए या फिर जीप पर निर्भर रहना होता है। जो कि काफी वक्त में एक बार गांव आती हैं। वहां आसपास कोई पेट्रोल पंप भी नहीं है। दुकानों पर बोतलों में भरकर मिट्टी का तेल बेचते दुकानदार जरूर देखे जा सकते हैं।

Loading...