माइनॉरिटी कमीशन भोपाल जेल पंहुचा,सिमी सदस्यों के एनकाउंटर की जांच की

माइनॉरिटी कमीशन भोपाल जेल पंहुचा,सिमी सदस्यों के एनकाउंटर की जांच की

Posted by

आज भोपाल जेल में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का एक जाँच दल पहुचा.इस जांच दल ने भोपाल जेल में बंद तथाकथित सिमी कार्येकर्ताओ के परिवार जनों द्वारा दी गयी शिकायत की जांच की।परिवार जनों ने शिकायत में कहा है कि उनके विचाराधीन कैदियों के साथ जेल प्रशासन प्रताड़ना कर रहा है.जिसमे उन्हें गैरकानूनी रूप से एकांत परिधि (solitary confinement)में रखा जा रहा है, उनके साथ मारपीट की जा रही है और इस्लाम विरोधी नारे लगवाने के लिए प्रताड़ित किया जा रहा है.

उन्हें पेट भर भोजन नहीं दिया जा रहा है और नहाने-धोने और पीने के लिए दिन-भर में मात्र एक बोतल पानी दिया जा रहा है.बीमार कैदियों का इलाज नही किया जा रहा है.
परिजनों को और वकीलों को ठीक से कैदियों को मिलने नहीं दिया जा रहा है

इन मांगों पर शीघ्र कार्यवाही करने के लये कई मानव अधिकार संगठनों जिनमे मुख्य रूप से PUCL,NCHRO,APCR,Quill Foundation औरJTSA ने आयोग को आवेदन दिया था।आज जब आयोग भोपाल पहुचा तो आयोग के अधिकारी पीपुल दत्ता प्रसाद औरअरुण कुमार ने इन संघटनो के प्रतिनिधियो से बात की जिनमे PUCL से माधुरी कृष्णास्वामी,निधि जोशी, NCHRO से अन्सार इन्दौरी, APCR से मुश्फ़िक रज़ा ख़ान, Quill foundation से फवाज़ शाहीन, शामिल थे।

आयोग ने इन लोगो को बताया कि वो हर शिकायत की बारीकी से जांच करके अपनी रिपोर्ट आयोग को पेश करेंगे।आयोग के जांच दल ने जेल में बंद सिमी के विचाराधीन कैदियों से भी मुलाक़ात की इसके अलावा आयोग के जांच दल ने मुकदमो की पैरवी कर रहे वक़ील साजिद अली, वकील दीप चंद यादव, वकील परवेज़ आलम से भी मुलाकात की।

Loading...