मध्य प्रदेश:खेलने के लिए ग्राउंड की मांग कर रहे स्कूल के बच्चो को कलेक्टर ने पहुचाया जेल

मध्य प्रदेश:खेलने के लिए ग्राउंड की मांग कर रहे स्कूल के बच्चो को कलेक्टर ने पहुचाया जेल

Posted by

मध्यप्रदेश में स्कूल के कुछ बच्चों को लगभग तीन घंटे तक जेल में रखा गया। वे बच्चे एक बेहतर प्लेग्राउंड और अच्छी सड़कों के लिए प्रदर्शन कर रहे थे। खबर के मुताबिक, पुलिस ने लड़के और लड़कियों को एक ही वैन में रखा और लड़कियों को पकड़ने के लिए कोई महिला पुलिसकर्मी भी मौजूद नहीं थी। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, यह सब बाल अधिकारों के संरक्षण के लिए बने राज्य आयोग (MPCPCR) के चेयरमैन राघवेंद्र शर्मा के सामने हुआ। पुलिस ने जुवेनाइल के लिए बने किसी नियम का भी पालन नहीं किया।
खबर के मुताबिक, लगभग 50 बच्चे जिसमें से लगभग 35 नाबालिग थे बुधवार को कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव से मिलने के लिए पहुंचे थे। लेकिन वह केंद्र की किसी स्कीम को लॉन्च करने के लिए पास ही किसी कार्यक्रम में गए हुए थे। बच्चों ने कुछ घंटों इंतजार किया। लेकिन जब भी कलेक्टर के ना आने पर बच्चे उसी जगह पहुंच गए जहां वह कार्यक्रम हो रहा था। वहां बच्चों ने अपनी मांग उठाई तो कलेक्टर ने पुलिस को आर्डर दिया कि वे सभी बच्चों को वहां से ले जाएं। वहां सुनील पांडे और उनके साथ मौजूद सभी पुलिसवालों ने बच्चों को उठाकर जेल प्रशासन को सौंप दिया।

MPCPCR प्रमुख राघवेंद्र शर्मा ने मुद्दे पर बात करते हुए कहा कि वह जानना चाहते हैं कि बच्चों को इतना उग्र होने के लिए किसने उकसाया था। वहीं पुलिस ने अपने एक्शन का बचाव करते हुए कहा कि वहां लगभग पांच हजार बच्चे थे। पुलिस ने कहा कि कानून एवं व्यवस्था को बनाए रखने के लिए वह कदम उठाया गया था।

सम्बंधित खबरे

error: Content is protected !!