अपनी बात से पलटा EC,गुजरात चुनाव में VVPAT(EVM) का इस्तेमाल नही करना चाहता है

अपनी बात से पलटा EC,गुजरात चुनाव में VVPAT(EVM) का इस्तेमाल नही करना चाहता है

Posted by

नई दिल्ली-इलेक्शन कमीशन के बदले रुख के बाद EVM मशीनों को लेकर फिर विवाद उठ सकता है,दो महीने में ही इलेक्शन कमीशन ने VVPAT मशीनों पर दो अलग अलग राय देकर विपक्ष को एक बार फिर हमला बोलने का मौका दे दिया है.

12 मई को इलेक्शन कमीशन ने दावा किया था अब भविष्य के सभी चुनाव VVPAT EVM मशीनों द्वारा संपन्न कराया जायेगा,इलेक्शन कमिशनर नसीम जैदी ने सर्वदलीय बैठक में सभी पार्टियों को आश्वासन दिया था कि अब भविष्य के सभी चुनाव VVPAT मशीनों के द्वारा ही संपन्न कराया जायेगा.

केंद्र सरकार ने भी 3,173.47 करोड़ का बजट मशीनों की खरीदारी के लिए आवंटित कर दिया है.लेकिन 6 जुलाई को इलेक्शन कमीशन ने पैतरा बदलते हुए सुप्रीम कोर्ट को बताया कि दिसम्बर में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव में VVPAT मशीनों का इस्तेमाल नही हो पायेगा.

इलेक्शन कमिशन ने सुप्रीम कोर्ट को एक मामले की सुनवाई में कहा है कि गुजरात विधानसभा चुनावों में 70000 EVM(VVPAT) मशीनों की ज़रूरत है हलाकि कमीशन के पास 85000 मशीन है लेकिन सभी मशीन इस समय क्रियाशील नही है.

सुप्रीम कोर्ट ने इलेक्शन कमीशन के इस रुख पर लताड़ लगाते हुए कहा है कि जब आपके पास 85000 मशीन(VVPAT) है ऐसा चार महीने पहले हलफनामे में बताया जा चूका है इसलिए गुजरात विधान सभा में इसके इस्तेमाल ना करने का तर्कसंगत आधार नही है.

सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस जे.एस. खेहर और जस्टिस डी.याई. चंद्रचूड की खंडपीठ कर रही है.याचिका पाटीदार अनामत आन्दोलन समिति के संयोजक रेशमा पटेल द्वारा दायर की गयी है.

Loading...