Headline24

Follow

मोदी के जुमलो के वज़ह से लोग मित्रों,भाइयो और बहनों सुनते ही भाग खड़े होते हैं-उद्धव ठाकरे 

Share

भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी पार्टी शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मजाक उड़ाया है। मुंबई में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा, ‘पहले मैं अपने भाषण की शुरुआत भाईयों और बहनों या मित्रों से शुरू करता था, लेकिन अब मैं ये शब्द इस्तेमाल नहीं करता, क्योंकि अब लोग ये शब्द सुनकर भाग खड़े होते हैं।’ उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम का जिक्र भाषण में किया बिना उनका मजाक उड़ाया।

मुंबई में बीएमसी के चुनावों की घोषणा बुधवार को हो गई है। हालांकि, बीएमसी के चुनाव शिवसेना और भाजपा एक साथ मिलकर नहीं लड़ रहे हैं। उद्धव ठाकर ने कहा कि उन्हें अभी तक किसी पार्टी की ओर से गठबंधन का कोई प्रस्ताव नहीं मिला है। ठाकरे ने कहा, ‘सीट बंटवारे को लेकर मेरे पास फॉर्मूला था, लेकिन मुझे अभी तक कोई प्रस्ताव नहीं मिला है।’ साथ ही उद्धव ने कहा कि जिला परिषद के चुनाव के लिए भाजपा के साथ गठबंधन का फैसला स्थानीय नेता करेंगे।

बता दें, भाजपा की सहयोगी पार्टी शिवसेना समय-समय पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधती रही है। नोटबंदी को लेकर भी शिवसेना ने पीएम मोदी सरकार पर कई सवाल उठाए थे। हालही में शिवसेना ने केंद्र सरकार के दावे को चुनौती देते हुए नोटबंदी के बाद शहीद हुए सैनिकों की वास्तविक संख्या का खुलासा करने को कहा है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार इस बात का दावा करती रही है कि नोटबंदी से आतंकियों के वित्त पोषण पर रोक लगी है। शिवसेना ने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के एक बयान पर आपत्ति जाहिर करते हुए कहा कि सेना को राजनीति में नहीं घसीटा जाना चाहिए।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में प्रकाशित एक संपादकीय में शिवसेना ने कहा है कि जम्मू के अखनूर सेक्टर में कल जनरल रिजर्व इंजीनियर फोर्स (जीआरईएफ) के शिविर पर हुआ हमला, यह साबित करता है कि नोटबंदी से आतंकी पस्त नहीं हुए हैं और उनकी आतंकी गतिविधियां बिना किसी रूकावट के जारी है।

Share

Related

Latest