नसीरूद्दीन शाह बोले-गौरक्षको की हिंसा पर हिन्दू को भी निंदा करना चाहिए,मुस्लिमो पर भी ये कहा…..

नसीरूद्दीन शाह बोले-गौरक्षको की हिंसा पर हिन्दू को भी निंदा करना चाहिए,मुस्लिमो पर भी ये कहा…..

Posted by

नई दिल्ली-फिल्म एक्टर नसीरूद्दीन शाह ने अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स में एक लेख लिखा है उन्होंने कहा है कि उन्होंने इस्लाम को बीस साल पहले ही फॉलो करना बंद कर दिया,उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी हिन्दू है और उन्होंने अपने बच्चे के लिए कोई धर्म नही चुना है,यहाँ तक कि स्कुल में एडमिशन के समय उन्होंने फॉर्म में धर्म नही लिखा जिसको लेकर स्कुल एडमिनिस्ट्रेशन से बहस बाज़ी भी हुई.

गौरक्षको द्वारा मुस्लिमो की हत्याओं पर हिन्दुओं को आलोचना करनी चाहिए ..
साथ ही ये भी कहा कि “देशभक्ति कोई टॉनिक नहीं है जो जबरदस्ती किसी के गले में डाल दिया जाए। जिस तरह से कई मुस्लिम आईएसआईएस की तुलना करने से बचते हैं उसी तरह से हिंदु भी गौरक्षकों द्वारा किसी मुस्लिम के मारे जाने की निंदा नहीं करते हैं.”

उन्होंने कहा “भगवा ब्रिगेड वालों ने ना सिर्फ अपने मन में ये बात बिठाई है कि सैकड़ों साल पहले लूटपाट करने आए आक्रमणकरी मुसलमान शासकों ने देश को नुकसान पहुंचाया बल्कि वो भारतीय मुसलमानों को दूसरा दर्जा देकर उन्हें सजा देने का मन बना रखा है. हम ‘आक्रमणकारियों के वंशज’ हैं, हालांकि हम में भी स्वदेशी खून है.कई पीढ़ियों बाद भी, हमारे पूर्वजों के अपराधों के लिए मरम्मत करने की जरूरत है.”

मुस्लिमो पर भी साधा निशाना..
नसीरूद्दीन शाह ने लिखा है कि “मुझे याद नहीं है कि कैसे मुसलमानों को संदेह की नजर से देखना शुरू किया गया.नवजात मुस्लिम बच्चे के कानों में पहली आवाज या जो आज़ान की जाती है या फिर कलमे की.मेरे कानों में कौन सी आवाज गई थी मुझे याद नहीं है.”

Loading...