नोटबंदी की मार- जानी मानी रेटिंग एजेंसी फिच ने भारत की रेटिंग घटाई

नोटबंदी की मार- जानी मानी रेटिंग एजेंसी फिच ने भारत की रेटिंग घटाई

Posted by

जानी मानी रेटिंग एजेंसी फिच ने नोटबंदी को ध्यान में रखते मौजूदा वित्तीय वर्ष में भारत की GDP वृद्धि दर 6.9 प्रतिशत रहने का नया अनुमान व्यक्त किया है वहीं पहले यह अनुमान 7.4 % का था. फर्म ने कहा कि नोटबंदी के कारण देश की आर्थिक गतिविधियों में व्यवधान आ गया है.

एजेंसी ने एक रिपोर्ट में कहा है कि नोटबंदी के फैसले के कारण उपजे नकदी संकट का असर अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में आर्थिक गतिविधियों पर पड़ेगा.

नोटबंदी के एलान के बाद अब 60 दिन हो चुके हैं. मोदी सरकार की 50 दिन की डेडलाइन भी खत्म हो गई है लेकिन नोटबंदी का असर अब दिखना शुरू हो गया है.

एक तरफ वित्त मंत्री अरुण जेटली ,RBI दावा कर रहे है इकॉनमी मस्ती के साथ आगे ग्रो कर रही है मगर आकडे कुछ दूसरी और चिंताजनक तस्वीर ब्यान कर रहे है.

बैंको का उधारी कारोबार बंद जैसा हो गया है
RBI ने जो आकडे जारी किये है उसके अनुसार 23 दिसंबर को बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ गिरकर 5.1 फीसदी पर आ गया, जो पिछले कई दशकों के लो लेवल पर है.

इकोनॉमिस्ट्स भी इस पर अब चिंचित है उनके अनुसार , बैंकों की क्रेडिट ग्रोथ में इतनी गिरावट काफी चिंता की बात है.इकोनॉमिस्ट डी.एच.पई पन्नंदिकर के अनुसार ये आजादी के बाद से अब तक की सबसे बड़ी गिरावट है .

ऑटो कारोबार में 16 साल की सबसे बड़ी गिरावट
किसी देश की इकोनॉमी के आकलन के लिए ऑटो सेक्टर के ग्रोथ को काफी अहम माना जाता है लेकिन यहाँ पर भी बड़ी गिरावट दर्ज हुई है सोसाइटी ऑफ इंडिया ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स के अनुसार, दिसंबर में सेल्स 16 साल के सबसे निचले स्तर पर आ गई है.

सि‍आम के डीजी वि‍ष्‍णु माथुर ने कहा, “सभी कैटेगरीज की टोटल सेल में दि‍संबर 2000 के बाद की सबसे बड़ी गि‍रावट देखने को मि‍ली है.उस वक्‍त सेल्‍स में 21.81% गिरावट दर्ज की गयी है.”
नोटबंदी की वजह से कंज्‍यूमर सेंटीमेंट नेगेटि‍व हो गया है. दिसंबर में टोटल व्हीकल्स सेल्स में 18.66% की गिरावट दर्ज की गई है.

रियल एस्टेट की सेल आधी
रियल एस्टेट सेक्टर की एजेंसी नाइट फ्रैंक की मंगलवार को जारी रिपोर्ट ‘इंडि‍या रियल एस्‍टेट’ में कहा गया है कि नोटबंदी की वजह से रियल एस्टेट की सेल 44 परसेंट से ज्यादा गिर गयी है इसके चलते इस सेक्टर को हजारो करोड़ का नुक्सान हो चूका है .

ब्रेकिंग न्यूज़
error: Content is protected !!