ग़रीब मज़दूरों को भी मंत्री बनने का मौक़ा देती है बीजेपी:भागवत कराड़

Read Time:8 Minute, 39 Second
ग़रीब मज़दूरों को भी मंत्री बनने का मौक़ा देती है बीजेपी:भागवत कराड़
Spread the love

नई दिल्ली:आज देश में हर जगह BJP की सरकार होती जा रही है तो उसकी सबसे बड़ी वजह है कि वहाँ अपने छोटे से कार्यकर्ता को भी मंत्री और प्रधानमंत्री बनने का मौक़ा दिया जाता रहा है.उदाहरण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी,प्रताप चंद सारंगी जैसे लोग मौजूद हैं जो एक सामान्य कार्यकर्ता के सफ़र से शुरू किए अपना राजनीतिक सफ़र और आज सबसे बड़े पद पर मौजूद हैं.

ऐसे में ही महाराष्ट्र के सबसे चर्चित नेता व वर्तमान में राज्यसभा सांसद भागवत कराड़ भी उन्ही नेताओं में से हैं जो एक किसान परिवार से राजनीति में आये और आज उनका नाम पार्टी के बड़े नेताओं में हैं.

काराड जी से आज इंटर्व्यू में वर्तमान महाराष्ट्र सरकार और उनके राजनीतिक कैरियर को लेकर कुछ सवाल किया गया जो आपके सामने हैं:-

 विश्व कोरोना महामारी से जूझ रहा है ऐसे में महाराष्ट्र के बारे में आप क्या कहेंगे?
इस सवाल का जवाब देते हुए भागवत कराड़ जी ने कहा कि वर्तमान में पूरे देश में कोरोना का प्रसार बहुत तेजी से हो रहा है। महाराष्ट्र में कोरोना का प्रभाव बहुत अधिक है। महाराष्ट्र में कोरोना मरीज को अस्पताल में बेड मिलना भी बहुत मुश्किल है। उन्होंने आगे कहा कि जहां पर बीजेपी के सांसद या विधायक है क्षेत्र में हमने कोविड सेंटर बनवाएं, मास्क का वितरण करवाया। और भी कई बचाव कार्य किए। लेकिन सरकार के साथ हमारा तालमेल ना होने के कारण हम पूरी तरह से काम नहीं कर पा रहे हैं।

सुशांत केस में मुंबई पुलिस जिस प्रकार से काम कर रही है। इससे क्या आपको लगता है कि मुंबई पुलिस महाराष्ट्र सरकार के दबाव में काम कर रही है?
इस सवाल के जवाब में भागवत जी ने कहा कि हां बिल्कुल, मुंबई पुलिस महाराष्ट्र सरकार के दबाव में काम कर रही है, इसलिए इस केश पर सीबीआई जांच हो रही है। अब सीबीआई जांच में सबकुछ साफ हो जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि एक आईपीएस अधिकारी को जबरन क्वॉरेंटाइन करना (जो सुशांत के केस में जांच के लिए आया हो) मेरे हिसाब से बहुत गलत है।

सर बीएमसी के द्वारा कंगना रनौत के ऑफिस को 24 घंटे के अंदर नोटिस देकर उस समय गिराना जब जब वहां पर नहीं थी। तो क्या हम यह कह सकते हैं कि बीएमसी भी महाराष्ट्र सरकार के दबाव में काम कर रही है?
इस पर उन्होंने कहा कि कंगना ने जो बयान दिया था उसी को लेकर ही बीएमसी ने उनका घर गिराया। जबकि वह कंस्ट्रक्शन ही पुराना है। अगर वह इलीगल था तो बीएमसी ने इसे पहले क्यों नहीं गिराया। इससे साफ जाहिर होता है कि बीएमसी भी महाराष्ट्र सरकार के दबाव में ही काम कर रही है।

कंगना रनौत पर अभद्र बयानबाजी एक सांसद द्वारा दिया जाना क्या यह उचित है?
इस पर उन्होंने कहा कि बिल्कुल नहीं, इस तरह की बयानबाजी करना गलत है। यह बहुत ही निंदनीय है। उन्होंने आगे कहा कि एक महिला पर इस तरह की बयानबाजी करने वाले पर एक्शन सरकार द्वारा लिया जाना चाहिए था।

शिवसेना ने अपने फायदे के लिए बीजेपी का साथ महाराष्ट्र में छोड़कर कांग्रेस के साथ होना क्या यह सही है? और क्या आगे शिवसेना एनडीए के साथ दोबारा आ पाएगी?
इस पर उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने बीजेपी और शिवसेना को वोट देकर जिताया। जनता ने कांग्रेस को नकार दिया, लेकिन शिवसेना द्वारा कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाना महाराष्ट्र की जनता के साथ धोखा करना है। और शिवसेना आगे एनडीए के साथ दोबारा आएगी या नहीं यह हमारे पार्टी के प्रमुख के ऊपर है। लेकिन यह तो साफ है कि शिवसेना ने बीजेपी के साथ धोखा किया है।
महाराष्ट्र सरकार केंद्र पर यह आरोप लगाती है कि केंद्र सरकार उन्हें फंड नहीं देती है। इस पर आप क्या कहेंगे?
इस पर उन्होंने कहा कि मुझे पूरा पता तो नहीं है लेकिन कुछ समय पहले मैंने पढ़ा था कि केंद्र सरकार ने ₹28000 करोड़ कोरोना से बचाव के लिए महाराष्ट्र सरकार को दिए थे। केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र में वेंटीलेटर मुहैया करवाया, मास्क दिए, PPE किट आदि कोरोना से बचने के लिए महाराष्ट्र में दिए। महाराष्ट्र सरकार जनता के लिए कुछ भी मुहैया नहीं करा रही है उसे केंद्र की ओर से सब कुछ मिल रहा उसके बाद भी।

रोजगार को लेकर विपक्ष और कुछ संगठन सरकार पर सवाल उठा रही हैं। आपको क्या लगता है कि सरकार को इसके लिए क्या कदम उठाना चाहिए?
इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि भारत में लॉकडाउन की वजह से बेरोजगारी बढ़ी है। लॉकडाउन खुलने के बाद हमारे देश में बाहर से बड़ी-बड़ी कंपनियां आ रही हैं। कुछ ने तो अपना काम भी स्टार्ट कर दिया है। मोदी सरकार बेरोजगारी दूर करने के लिए काम कर रही है।
बिहार चुनाव के बारे में आप क्या कहेंगे?
इस पर उन्होंने कहा कि बिहार में बीजेपी जनता दल यूनाइटेड के साथ गठबंधन में है। और हो सकता है कि रामविलास पासवान जी की पार्टी भी साथ में आए। इस तरह इस बार भी बिहार में एनडीए की सरकार बनेगी।
बिहार की स्वास्थ्य समस्याएं ठीक नहीं है। इस पर आपको क्या लगता है कि पहले इन समस्याओं से निपटा जाना चाहिए? इस पर उन्होंने कहा कि हर राज्य में कुछ ना कुछ मुद्दा होता है। और हम उन से निपटने के लिए पूरी कोशिश भी कर रहे हैं।
बीजेपी ने अपनी प्रमुख मुद्दे जो घोषणा पत्र में किए थे उसे लगभग पूरा कर लिया है। तो आगे आपको क्या लगता है कि ऐसा कौन सा मुद्दा बचा है जिसे बीजेपी पूरा करना चाहेगी?
इस पर भागवत जी ने कहा कि बीजेपी ने धारा 370, 35A, राम मंदिर, तीन तलाक जैसे कई सारे मुद्दे पूरे किए हैं। उन्होंने आगे कहा कि अभी हमारे पास सिर्फ एक ही मुद्दा बचा है वह है “गरीब कल्याण”। जिस पर मोदी जी काम भी कर रहे हैं।

 

महाराष्ट्र सरकार की प्रमुख कमियां आपके हिसाब से क्या है?
इस पर उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में किसानों के लिए काम ठीक से नहीं हो रहा है, कोरोना में भी महाराष्ट्र सरकार ठीक तरह से काम नहीं कर पाई। सड़के ठीक नहीं है। ऐसे ही बहुत सारी कमियां है जो महाराष्ट्र सरकार पूरा नहीं कर पा रही है।

 

About Post Author

Akash Rabindra Shukla

तुम थोड़ा और बेहतर सोचो, मैं थोड़ा और बेहतर लगूँगा तुमको ..
3 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *