ब्लॉग

शाहबाज कलंदर पर आतंकवादी हमला ,दक्षिण एशिया की सदियों पुराने सोच पर हमला है

शाहबाज कलंदर पर आतंकवादी हमला ,दक्षिण एशिया की सदियों पुराने सोच पर हमला है

February 21, 2017 at 4:38 pm

जावेद अनीस सूफियों ने हमेशा से ही प्यार और अमन की तालीम दी है, सदियों से उनकी दरगाहें इंसानी मोहब्बत और आपसी भाईचारे का सन्देश देती आई हैं. दक्षिण एशिया के पूरे हिस्से की भी यही पहचान रही है जहाँ विभिन्न मतों और संस्कृतियां एक साथ फले फूले हैं. आज भी उनके दर मिली जुली संस्कृति के मिसाल बने हुए […]

Read more ›
मोहम्मद फुरकान

दम तोड़ती मौलाना आज़ाद फ़ेलोशिप: हजारों शोधकर्ता रोहित वेमुला की राह पर

February 20, 2017 at 6:57 pm

सच्चर कमेटी की सिफ़ारिशो के बाद, तत्काल प्रधान मंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने “मौलाना आज़ाद नेशनल फ़ेलोशिप फॉर माइनॉरिटी स्टूडेंट्स” की शुरुवात की. जिसके अंतर्गत पीएचडी में पंजीकृत ऐसे अल्पसंख्यक छात्र/छात्राओं जिनके अभिभावकों की वार्षिक आय 4.5 लाख से कम है, उन्हें JRF के बराबर प्रति माह छात्र वृत्ति दी जाती है.

Read more ›

​तैमूर की खूबसूरती और फिटनेस का राज़ है की वो एक पठान का बच्चा है: करीना कपूर 

February 16, 2017 at 11:18 am

फिल्म अभिनेत्री करीना कपूर खान बेटे को जन्म देने के बाद अपने लुक को लेकर चिंता जाहीर की है। उन्होंने अपने प्रशंसकों से कहा है कि वे उनको हर रूप में स्वीकार करें। हाल ही में करीना ने अपनी डाइटिशियन रुजुता दिवेकर के साथ एक फेसबुक लाइव चैट किया। चैट के दौरान करीना ने प्रेग्नेंसी के बाद अपने फिटनेस और […]

Read more ›
ये है ‘मजलिस’ की ‘कयादत’ का हैदराबाद माडल

ये है ‘मजलिस’ की ‘कयादत’ का हैदराबाद माडल

February 8, 2017 at 12:30 am

रिपोर्ट -शाजिया हफीज आल इंडिया इत्तेहादुल मुस्लिमीन ने इस बार यूपी चुनाव में दस्तक दे दी है पार्टी के मुखिया असद्द्दीन ओवैसी लगातार यूपी की विभिन्न विधानसभा का दौरा कर रहे है हलाकि चुनाव पंडित अब पहले दौर के मतदान तक आते आते मीम को कोई बड़ी सफलता नही देख पा रहे है. दरअसल किसी पार्टी को वजूद में आने […]

Read more ›
ब्राह्मणवादियों के लिए सेकुलरिज़्म एक राजनीतिक टूल मात्र है:तारिक अनवर ‘चम्पारणी’

ब्राह्मणवादियों के लिए सेकुलरिज़्म एक राजनीतिक टूल मात्र है:तारिक अनवर ‘चम्पारणी’

February 6, 2017 at 1:11 pm

“केवल संघ नहीं है भाजपा और केवल भाजपा नहीं है संघ. ब्राह्मणवाद ही आरएसएस है और संघी ही ब्राह्मणवादी है”. इस पंक्ति पर ध्यान देने की आवश्यकता है.

Read more ›
फिरौतिबाज़ न्यूज़ चैनल पर आयातित भगोड़े  ….. मकसद हिन्दू और मुस्लिम  के बीच साम्प्रदायिकता फैलाना

फिरौतिबाज़ न्यूज़ चैनल पर आयातित भगोड़े ….. मकसद हिन्दू और मुस्लिम के बीच साम्प्रदायिकता फैलाना

January 23, 2017 at 8:55 pm

आप सब इस बात से अवगत हैं कि विश्व के अन्य भागों एवं देशों कि तुलना में भारत इस समय रक्तरंजीत मसलकी हिंसा और नस्लीय रंगभेद इत्यादी कि चपेट से बहुत हद तक बचा हुआ है. ये अलग बात है के साम्प्रदायिकता का विश यहां कई दशकों से भारतीय समाज की चेतना में पेवस्त करने का प्रयास निरन्तर चल रहा […]

Read more ›
ये इंस्पेक्टर जरा दूजे किस्म के हैं

ये इंस्पेक्टर जरा दूजे किस्म के हैं

January 15, 2017 at 11:52 pm

हिन्दी फिल्म ‘जिगर’ में अभिनेता गुलशन ग्रोवर बार बार एक डायलॉग बोलते हैं कि ‘हम इंस्पेक्टर जरा दूजे किस्म के है’ दरअस्ल वे जिस ‘दूजे किस्म’ को फिल्म में बार बार कहते हैं वह दूजा किस्म उनकी इमानदारी होती है। फिल्म में वे एक इमानदार इंस्पेक्टर की भूमिका में थे। खैर घटना 20 सितंबर 2008 की है उस इरशाद त्यागी […]

Read more ›
सच्चा मुसलमान होने का सर्टिफिकेट हैदराबाद वाले देते है :त्यागी

सच्चा मुसलमान होने का सर्टिफिकेट हैदराबाद वाले देते है :त्यागी

January 6, 2017 at 3:16 pm

औवेसी कहते हैं कि अगर मुझे देशभक्ती का सर्टिफिकेट चाहिये तो वह भाजपा से मिलेगा, अगर मुझे सेकुलरिज्म का सर्टिफिकेट चाहिये तो वह कांग्रेस से मिलेगा। औवेसी यह नहीं कहते कि सच्चा पक्का मुसलमान होना का सर्टिफिकेट ‘हैदराबाद’ से जारी होता है, उनकी पार्टी के समर्थक उनके खिलाफ एक लफ्ज सुनने को तैयार होना तो दूर की बात है वे […]

Read more ›
बुराई दाढ़ी में नहीं मानसिकता में है

बुराई दाढ़ी में नहीं मानसिकता में है

December 27, 2016 at 9:14 pm

वसीम अकरम त्यागी लेखक विजन मुस्लिम टुडे के सहसंपादक है  देश अभी नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री द्वारा दिये गये पचास दिनों का इंतजार कर रहा है जिसमें प्रधानमंत्री ने कहा था कि अगर पचास दिन के बाद नोटबंदी से कोई समस्या आये तो उन्हें किसी चौराहे पर जिंदा जला देना। वह अपने वादे पर काबिज रहेंगे या नहीं यह तो […]

Read more ›
सीरिया और बर्मा में नागरिको के नरसंहार पर दुनिया क्यों चुप है

सीरिया और बर्मा में नागरिको के नरसंहार पर दुनिया क्यों चुप है

December 25, 2016 at 10:23 am

इस समय विश्व भर मैं मुस्लमान चिंता और पीड़ा की एक अजीब सी स्थिति से जूझ रहे हैं, क्योंकि उनकी नज़रों के सामने निर्दोष मुसलमानों के खून की नदियां बह रही हैं, उन्हें मूली और गाजर की तरह काटा जा रहा है। कहीं उनके मकानों को बम्बारी द्वारा गिराया जा रहा है तो कहीं जला दिया जा रहा है और […]

Read more ›