मोदी सरकार ने हबीबगंज रेलवे स्टेशन से आरक्षण खत्म करने प्रक्रिया आरंभ की

मोदी सरकार ने हबीबगंज रेलवे स्टेशन से आरक्षण खत्म करने प्रक्रिया आरंभ की

Posted by

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से लगे हबीबगंज रेलवे स्टेशन को निजी कम्पनी को सौंपने का मतलब साफ़ है की जो काम यह खुले से नहीं कर सके उसे पिछवाड़े से करना शुरू कर दिया ।

RSS के कई बड़े नेता समय समय पर भारतीय पिछड़े दलित और वंचित वर्ग के आरक्षण को समाप्त करने के बयानात दे चुके हैं।

अब बॉस के हुक्म के पालन के लिए इन्होंने निजीकरण का सहारा ले लिया है।

हबीबगंज रेलवे स्टेशन को जिस निजी कंपनी को बेचा गया है क्या वोह दलित और पिछड़ों को आरक्षण देगी नहीं न बिलकुल नहीं।

तो यही तरीका ईजाद किया है माननीय मोदी जी आरक्षण को समाप्त करने का।

भारतीय रेलवे विश्व के सर्वाधिक रोज़गार देने वाली संस्था है और इनका इरादा धीरे धीरे पूरे रेलवे को निजी हाथों में सौंपने का है जिसका ज़िक्र रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा भी कर चुके हैं।

भाईयों यह PPP मॉडल कुछ नहीं सिर्फ निजीकरण को जायज़ ठहराने का साधन मात्र है।समय है इनकी कुटिल चाल को समझने का और जवाब देने का इन आरक्षण विरोधी भाजपाईयों को.!
मज़हर हुसैन

Loading...